Monday , September 28 2020

प्रमुख समाचार


विज्ञापन

Home / अपराध / 1.50 का ईनामी लक्ष्मण यादव पुलिस मुठभेड़ में हुआ ढेर, पिस्टल बरामद

1.50 का ईनामी लक्ष्मण यादव पुलिस मुठभेड़ में हुआ ढेर, पिस्टल बरामद

रिर्पोट- संजीव शर्मा

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले के पुलिस को आज एक बड़ी कामयाबी मिली है जब पूर्व डीआईजी के भाई का हत्यारा डेढ़ लाख का इनामी बदमाश पुलिस मुठभेड़ में मारा गया । मारा गया बदमाश लक्ष्मण यादव है जिसके ऊपर 42 मुकदमे दर्ज हैं। वह आजमगढ़ जिले के महराजगंज थाने के देवारा जदीद का निवासी था। बीते 1 सप्ताह पूर्व पूर्व डीआईजी जेपी सिंह के भाई रवि प्रताप सिंह की अंबेडकर नगर जिले के राजेसुल्तानपुर में हत्या की थी ।
डीआईजी आजमगढ़ रेंज मनोज तिवारी ने बताया कि महाराजगंज थाना क्षेत्र के नहरुमपुर गांव के पास वाहनों की चेकिंग चल रही थी जिले की स्वाट टीम और महाराजगंज की पुलिस टीम वाहनों की चेकिंग कर रही थी उसी दौरान बदमाश बाइक से भाग रहा था पुलिस के रोकने पर इसने पुलिस के ऊपर फायरिंग कर दी जवाब में पुलिस ने भी फायरिंग की जिसमें एक बदमाश घायल हुआ बाद में उसे अस्पताल ले जाया गया  जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया । इसकी शिनाख्त बाद में लक्ष्मण यादव के रूप में हुई। पता चला कि यह डेढ़ लाख का इनामी बदमाश है और इसके गोरखपुर अंबेडकरनगर आजमगढ़ जिले में कुल 42 अपराधिक मुकदमे दर्ज हैं। इसके अन्य साथी फरार हो गए पुलिस कांबिंग कर रही है शीघ्र ही उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा। बदमाशों के साथ मुठभेड़ में सिपाही सुरेन्द्र यादव को भी गोली लगी है। सुरेंद्र को  अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है जहां उसका इलाज चल रहा है। आजमगढ़ के पुलिस उपमहानिरीक्षक मनोज तिवारी ने बताया कि एक सप्ताह पूर्व इसने पूर्व डीआईजी जेपी सिंह के भाई रवि प्रताप सिंह की राजे सुल्तानपुर मे की थी हत्या।

About Bharat Good News

error: Content is protected !!