Saturday , November 28 2020

प्रमुख समाचार


विज्ञापन

Home / पूर्वांचल समाचार / आज़मगढ़ / हुनर रंग महोत्सव का दूसरा दिन-सामाजिक बुराइयों पर कड़ा प्रहार

हुनर रंग महोत्सव का दूसरा दिन-सामाजिक बुराइयों पर कड़ा प्रहार

आजमगढ़-डेस्क-रिपोर्ट-शैलेन्द्र शर्मा-सिटी रिपोर्टर 
आजमगढ़। वेस्ली इंटर कालेज में चल रहे हुनर रंग महोत्सव का दूसरा दिन सामाजिक बुराइयों पर प्रहार के नाम रहा। विभिन्न प्रांतों के कलाकारों ने नाटकों के माध्यम से सामाजिक बुराइयों पर कड़ा प्रहार किया।
इसके साथ ही एकल व सामूहिक नृत्यों के माध्यम से भी कलाकारों ने अपनी अमिट छाप दर्शकों पर छोड़ी। महोत्सव के दूसरे दिन की शुरूआत राष्ट्रगान के साथ हुई। पूर्व पालिकाध्यक्ष इंदिरा देवी जायसवाल ने दीप प्रज्जवलन कर दूसरे दिन के कार्यक्रम की शुरूआत की।
सांस्कृतिक कार्यक्रमों की शुरूआत एकल नृत्यों की प्रस्तुति के साथ हुई। जिसमें विभिन्न प्रांतों से आए कलाकारों के साथ ही स्थानीय कलाकारों ने भी अपनी प्रस्तुति दी। इसके बाद समूह नृत्यों का दौर शुरू हुआ।
जिसमें असम से आए कलाकारों की बिहू ने लोगों का मन मोह लिया। समूह नृत्य के बाद नाटकों का दौर शुरू हुआ। नाटकों के माध्यम से विभिन्न प्रांतों से आए कलाकारों ने सामाजिक बुराईयों पर कड़ा प्रहार किया।
अलग-अलग भाषाओं के कलाकारों के अभिनय के जादू के आगे भाषा की बाधा आड़े नहीं आई। नार्थ ईस्ट से आये द वूमन एंड चाइल्ड इंटीग्रीटी डेवलपमेंट अर्गनाइजेशन नागमपाल कंजीबी लेईरक मणिपुर के कलाकारों ने नाटक ‘मीरा’ की प्रस्तुति किया। नाटक के प्रमुख पात्रों में वनोदिनी देवी, वंदिता देवी और भाविनी देवी ने प्रमुख भूमिका निभायी। कार्यक्रम के दौरान अभिषेक जायसवाल, मनोज यादव, हेमंत श्रीवास्तव, मनोज बरनवाल, मनीष रतन अग्रवाल, अजेंद्र राय, विजय सिंह, नीरज अग्रवाल समेत काफी संख्या में दर्शक मौजूद रहे। संचालन आयोजन सचिव सुनील दत्त विश्वकर्मा ने किया।

About Bharat Good News

error: Content is protected !!