Monday , September 16 2019

प्रमुख समाचार


Home / पूर्वांचल समाचार / आज़मगढ़ / हत्यारोपियों की गिरफ्तारी नही होने पर किया ग्रामीणों ने थाने का घेराव व सड़क जाम

हत्यारोपियों की गिरफ्तारी नही होने पर किया ग्रामीणों ने थाने का घेराव व सड़क जाम

आजमगढ़-डेस्क-रिपोर्ट-रवि प्रकाश-बरदह 

आजमगढ़| बरदह थाना क्षेत्र के बर्रा गांव में बीते 18 जून को मशीन पर सो रहे तारा राजभर 55 पुत्र छांगुर राजभर की लाठी डंडों से पीटकर निर्मम हत्या की कर दी गई थी जिसमें गांव के विकास सिंह पुत्र बजरंग बहादुर सिंह व राहूंल कश्यप पुत्र शंकर कश्यप के खिलाफ तारा राजभर की पत्नी दुर्गावती राजभर ने हत्या का मुकदमा दर्ज करवाया था उस समय ग्रामीण आक्रोशित  होकर हत्या रोपियो की गिरफ्तारी को लेकर थाने पर आए थे और जाम लगाने की कोशिश भी किये थे  लेकिन पुलिस ने जल्द गिरफ्तारी का अस्वाशन देकर जाम को समाप्त करवा दिया था जिसमे एक कि गिरफ्तारी हो गई थी जो जेल में बंद हैं राहूंल कश्यप पुत्र शंकर कश्यप लेकिन  विकास सिंह पुत्र बजरंगबहादुर सिंह की गिरफ्तारी नही हो पाई थी जो अभी भी फरार हैं। इसी मामले को लेकर  बुधवार की शाम 5:00 बजे इस हत्या में तीन गवाहों के घर पर आरोपी विकास सिंह पुत्र बजरंग बहादुर सिंह व अपने दो सगे भाइयों को लेकर जिसमें विक्रम सिंह ,विशाल सिंह पुत्रगण बजरंगबहादुर सिंह  नारायन पुत्र मूसई राजभर को लेकर घर मे घुस गये और मुकदमे में गवाही ना देने की बात कहते हुए मारने पीटने लगे  जिसमें गवाह छोटू राजभर व रतिलाल राजभर पुत्रगण खेलावन राजभर, रामविलास राजभर पुत्र बहादुर राजभर घायल हो गए मौके पर काफी संख्या में ग्रामीण पहुंचे और इन लोगो के घर पर धावा बोल दिया लेकिन सभी घर छोड़कर फरार हो गए थे किसी ने सूचना पुलिस को दी मौके पर इंस्पेक्टर संजय कुमार सिंह फोर्स के साथ पहुंचे तब तक सभी फरार हो गए थे और घायल रामविलास राजभर पुत्र बहादुर राजभर की तहरीर पर गांव के विकास,विक्रम,विशाल पुत्रगण बजरंग बहादुर सिंह, नारायण राजभर पुत्र मुसई  राजभर के खिलाफ घर में घुसकर हत्या में गवाही को लेकर धमकाना मारना पीटना समेत आदि का मुकदमा दर्ज कराया जिसमे धारा 323,452,504,506 लगा हुआ हैं। लेकिन पुलिस किसी की गिरफ्तारी नहीं कर पाई तो दूसरे दिन  गुरुवार के दिन करीब 11:00 बजे सैकड़ों की संख्या में महिलाएं पुरुष ट्रैक्टर ट्राली से भरकर  थाने पर पहुंचे और पहुंचते ही थाने का घेराव सड़क जाम पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद पैसे लेकर नहीं करवाई कर रही है आदि तरह के आरोप लगाने लगे और कहने लगे पुलिस ने पैसे लेकर हत्यारोपियों गिरफ्तारी नहीं कर रही हैं और हत्यारोपी घर मे घुसकर मार पीट रहे हैं खुले आम घूम रहे हैं । आज अगर गिरफ्तारी नही हुई तो हम लोग सड़क को जाम किये रहेंगे टैक्टर ट्राली सड़क पर खड़ा करके सभी लोग बैठ गए और सड़क को जाम कर दिया पुलिस काफी समझाने बुझाने का प्रयास किया लेकिन एक नही सुने और पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाते रहे इंस्पेक्टर बरदह संजय कुमार सिंह फोर्स के साथ काफी प्रयास किया लेकिन सभी गिरफ्तारी को लेकर जाम पर बैठे रहे 11 बजे से 1 बजे तक जाम चला जब सीओ लालगंज सचिदानंद व देवगांव कोतवाल विजय प्रताप सिंह, दीदारगंज आर के सिंह ठेकमा चौकी प्रभारी दिनेश कुमार पाठक पहुंचे लोगो को समझा बुझाकर एक हफ्ते में गिरफ्तारी करने का अस्वाशन देकर जाम को समाप्त करवाया बता दे कि इस भीषण जाम से बरदह से गौराबादशाहपुर जौनपुर व भीरा बाजार के आगे तक गाड़ियों की लंबी लाइन लग गई थी। इस संबंध में सीओ लालगंज सचिदानंद ने बताया कि एक हफ्ते के अंदर हत्या के आरोपी की गिरफ्तारी की जाएगी और अगर नही मिलता हैं तो उसके घर की कुर्की नीलामी की प्रक्रिया कोर्ट द्वारा किया जाएगा
>
> जब पुलिस हो गई थी मजबूर
>
> जब महिलाये पुलिस को थाने में घुसकर दे रही थी गालिया और चिल्ला चिल्ला कर कह रही थी कि अरे पुलिसवा अब पैसा ना लेबे यह तो चाटुकार थाना हो गया हैं। पैसे से कुछ भी काम करवा सकते हैं। पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद मुर्दाबाद समेत तरह तरह की गलियां व आरोप लगा रही थी पूरी पुलिस फोर्स खड़े तमाशा देख रही थी इतना विवश हो गई थी पुलिस की कुछ भी नही कर पा रही थी तीन घंटे आज़मगढ़ जौनपुर मुख्य मार्ग को जाम रखा गाड़ियों की लंबी लाइन लग गई थी राहगीर बैठकर बस जाम हटने का राह देख रहे थे ।

About Bharat Good News

Leave a Reply

error: Content is protected !!