Tuesday , August 20 2019

प्रमुख समाचार


Home / पूर्वांचल समाचार / आज़मगढ़ / साहसिक कदम: डायल 100 के सिपाही ने दो परिवारों के इकलौते चिरागों को बुझने से बचाया

साहसिक कदम: डायल 100 के सिपाही ने दो परिवारों के इकलौते चिरागों को बुझने से बचाया

रिपोर्ट- ज्ञानेंद्रर चतुर्वेदी व विनोद सिंंह सोनू 
आज़मगढ़ ।पुलिस विभाग के डायल 100 के एक सिपाही ने रविवार को एक सराहनीय कार्य जब उसने दो परिवारों के इकलौते चिलाग को बुझने से बचा लिया । सिपाही के इस सराहनीय कार्य की हर जगह प्रशंसा की जा रही है काश हर जगह यूपी पुलिस इसी सोच के अनुरूप काम करती ऐसे पुलिसकर्मी को प्रदेश सरकार को पुरस्कृत करना चाहिए ।
पुलिस के अनुसार तहबरपुर थाना क्षेत्र के बैरमपुर मंझारी प्राइमरी स्कूल के सामने दो डूब रहे बच्चो को सिपाही अर्जुन यादव जो की यूपी पुलिस की डायल 100 मे कार्यरत हैं ।इस सिपाही ने दो परिवारो के एकलौते चिराग को बुझने से बचा लिया ।आपको बता दें कि ड्यूटी के दौरान डायल 100 की गाडी पास से गुजर रही थी । अर्जुन यादव की नजर डूब रहे बच्चो पर पड़ी और इन्होने अपने जान की परवाह ना करते हुए तालाब मे कूदकर दोनो बच्चो की जान बचाई ।पीआरवी 1054 द्वारा कमांडर विनेश कुमार ,सब कमांडर जैसवार रविंदर, पायलट हो0गा0 अर्जुन यादव रविवार को लगभग 11:00 बजे दिन में अपने निर्धारित बिंदु बैरन पूर्व प्राथमिक विद्यालय के पास खड़े थे प्राथमिक विद्यालय से 10 से 15 मीटर की दूरी पर कुछ बच्चे क्रिकेट खेल रहे थे की पास में ही एक तालाब था जो पानी से भरा हुआ था बच्चों द्वारा खेल खेल में क्रिकेट गेंद तालाब में चली गई । बच्चे गेंद निकालने के लिए तालाब के पास गए कि तभी एक बच्चा जिसका नाम दिव्यांश राय पुत्र शेषनाथ राय निवासी बैरन उम्र लगभग 15 वर्ष थी गेंद निकालने का प्रयास कर रहा था पानी में गिर गया और डूबने लगा डूबते हुए बच्चे को बचाने के लिए उसका साथी उज्जवल राय पुत्र सुशील राय निवासी बैरन उम्र लगभग 15 वर्ष तालाब में कूद गया तथा दोनों तालाब में डूबने लगे ,तभी रास्ते से एक साइकिल सवार व्यक्ति गुजर रहा था तो उसका ध्यान डूबते हुए बच्चों की तरफ गया तो वह व्यक्ति जोर जोर से चिल्लाने लगा व्यक्ति की आवाज सुनकर पीआरवी 1054 के कर्मचारी भाग कर मौके पर गए तो देखा कि दोनों बच्चे पानी से भरे तालाब में डूब रहे हैं । पीआरवी कर्मी तत्काल साहस का परिचय देते हुए तालाब में कूद गए तथा बच्चों को पानी से बाहर निकाला बच्चे बेहोश हो गए थे ।बच्चों को बाहर जमीन पर उल्टा लिटा कर पीआरबी कर्मचारी द्वारा उनके पेट से पानी बाहर निकाला जिससे उनको होश आया । बच्चों के डूबने की खबर उनके गांव बैरनपुर और आस-पास आग की तरह फैल गई । बच्चों के परिजन तथा गांव के अन्य लोग भागे भागे तालाब पर आए तथा अपने बच्चे को सुरक्षित बचा लेने के फल स्वरुप कर्मियों को बहुत-बहुत बधाई एवं धन्यवाद कर प्रशंसा की ।बच्चों के माता-पिता भावुक हो गए और पीआरवी कर्मियों का आभार प्रकट किया । मौके पर उपस्थित लोगों द्वारा पीआरवी कर्मियों की भूरि भूरि प्रशंसा की गई ।जिससे आम जनमानस में पुलिस एवं पीआरबी कर्मियों के प्रति विश्वास बढ़ा।

About Bharat Good News

Leave a Reply

error: Content is protected !!