Tuesday , December 1 2020

प्रमुख समाचार


विज्ञापन

Home / पूर्वांचल समाचार / आज़मगढ़ / रोडवेज कर्मियों ने किया डग्गामारी पर रोक लगाने की मांग

रोडवेज कर्मियों ने किया डग्गामारी पर रोक लगाने की मांग

आजमगढ़-डेस्क-रिपोर्ट-सोनू पंडित-सिटी रिपोर्टर 

आजमगढ़। रोडवेज कर्मचारी यूपी की योगी सरकार से खासे नाराज है। उन्होंने योेगी सरकार पर डग्गामारी को बढ़ावा देने का आरोप लगाया। कर्मचारियों ने दावा किया कि इस सरकार में प्राइवेट वाहन जितनी डग्गामारी कर रहे है पहले किसी सरकार में कभी नहीं हुआ। वहीं सातवा वेतन सहित आधा दर्जन मांगों को लेकर कर्मचारियों ने रोडवेज कर्मचारी संयुक्त परिषद के बैनर तले विरोध प्रदर्शन किया। मांग पूरी न होने पर चक्काजाम की चेतावनी दी।
रोडवेज कर्मचारियों ने संगठन के बैनर तले शहर में जुलूस निकाल कर प्रदर्शन किया। इसके बाद रोडवेज परिसर में घरना दिया। क्षेत्रीय मंत्री पीएन सिंह ने कहा कि रोडवेज कर्मचारी लंबे समय से सातवें वेतन की मांग कर रहे है लेकिन उनकी यह मांग आज तक पूरी नहीं की गयी। सरकार कर्मचारियों को तत्काल सातवें वेतन आयोग का लाभ दे। जो कर्मचारी संविदा पर तैनात है उन्हें तत्काल नियमित किया जाय। ऐसे कर्मचरी जिन्हें डेली सौ या 150 रूपये दिया जाता है उनका कम से कम सात हजार रूपये मासिक फिक्स किया जाय। संविदा कर्मचारी यदि दुर्घटना का शिकार होता है तो उन्हें मेंडिकल की पूरी सुविधा सरकार दे। इसके अलावा वेतन सहित तमाम विसंगतियां है जिन्हें दूर किया जाय।
उन्होंने कहा कि सरकार ने हमे 8 प्रतिशत मार्ग दिया है लेकिन उसपर भी निजी बस संचालक खुलेआम डग्गामारी करा रहे है। बीजेपी के सत्ता में आने के बाद यह चरम पर पहुंच गया है लेकिन सरकार इस पर नियंत्रण नहीं कर रही है। पूर्व की सरकारों में कभी इतनी डग्गामारी नहीं थी। उन्होंने कहा कि यदि सरकार हमारी मांग को तत्काल पूरा नहीं करती है तो हम क्षेत्र के साठ प्रतिशत कर्मचारी 21 फरवरी को काम ठप कर धरना देंगे। इसके बाद भी सरकार नहीं मानी तो चक्का जाम किया जाएगा। जिसकी सारी जिम्मेदारी सरकार की होगी।

About Bharat Good News

error: Content is protected !!