Sunday , October 25 2020

प्रमुख समाचार


विज्ञापन

Home / पूर्वांचल समाचार / आज़मगढ़ / मेंहनगर समाधान दिवस-105 मामले आये, जिसमे से 04 मामलों का मौके पर निस्तारण

मेंहनगर समाधान दिवस-105 मामले आये, जिसमे से 04 मामलों का मौके पर निस्तारण

रिर्पोट- सोनू सिंह

आजमगढ़ | जिलाधिकारी शिवाकान्त द्विवेदी व पुलिस अधीक्षक त्रिवेणी सिंह की अध्यक्षता में तहसील मेंहनगर में सम्पूूर्ण समाधान दिवस सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने जन समस्याओं के त्वरित एवं गुणवत्तायुक्त निस्तारण करने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि इसमे किसी भी स्तर पर लापरवाही क्षम्य नही होगी। जन समस्याओं का गुणवत्तायुक्त एवं समयबद्ध निस्तारण शासन की प्राथमिकता है।
इस अवसर पर कुल 105 मामले आये, जिसमे से 04 मामलों का मौके पर निस्तारण किया गया तथा शेष 101 मामलों का निस्तारण निर्धारित समय सीमा के अन्तर्गत करने के निर्देश जिलाधिकारी द्वारा संबंधित अधिकारियों को दिए गये। प्राप्त मामलों में राजस्व के 55, पुलिस के 35, विकास के 10, विद्युत के 02, आपूर्ति के 03 मामले शामिल हैं।
प्रार्थीनी आशा पत्नी श्यामलाल ग्राम जमकी परगना बेलादौलताबाद तहसील मेंहनगर द्वारा अवगत कराया गया कि प्रार्थिनी के भूमि पर राजदेव पुत्र पूजन, रामदास पुत्र राजदेव, ये दोनों लोग दबंगई के बल पर प्रार्थिनी की जमीन पर मकान बनाकर कब्जा करना चाह रहे हैं और उसी भूमि में नाबदान का पानी बहा रहे हैं, जब भी प्रार्थिनी उसका विरोध करती है तो विपक्षी मारने पीटने की धमकी देते हैं। इस पर जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी मेंहनगर को निर्देशित करते हुए कहा कि राजस्व और पुलिस की संयुक्त टीम भेजकर उपरोक्त विवाद का निस्तारण जल्द से जल्द करना सुनिश्चित करें।
प्रार्थी पिन्टू पुत्र सुफेर ग्राम धरनीपुर रानीपुर तहसील मेंहनगर द्वारा अवगत कराया गया कि प्रार्थी को आवास मिला था, जिसमें पहली किस्त 40 हजार रूपये प्राप्त हुआ है, दूसरी किस्त के लिए प्रार्थी जब पीएनबी बैंक गया तो पता चला कि पैसा निकल गया है, लेकिन प्रार्थी को पता नही चला, ग्राम प्रधान व बैंक की मिली भगत से प्रार्थी के खाते से पैसा निकाल लिया गया है। इस पर जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारी पल्हना को निर्देशित करते हुए कहा कि प्रार्थी को दूसरी किस्त दिलाने की जल्द से जल्द कार्यवाही करें।
प्रार्थी दयाशंकर सिंह पुत्र बेचन सिंह ग्राम देवरिया परगना बेलादौलताबाद तहसील मेंहनगर द्वारा अवगत कराया गया कि प्रार्थी की पैतृक भूमिधरी है, प्रार्थी के खेत से सटे दक्षिण तरफ सरकारी चकमार्ग कागजात सरकारी में कायम है। प्रार्थी की अनुपस्थिति में ग्राम प्रधान व ठेकेदार द्वारा उपरोक्त चकमार्ग को प्रार्थी की भूमिधरी में कायम कर दिया गया है, उपरोक्त चकमार्ग को प्रार्थी के चक से निकालकर उसके मूल स्थान पर कायम करने हेतु प्रार्थी द्वारा सन 2008 से लगातार दरखाश्त दिया जा रहा है, किन्तु आज तक उपरोक्त चकमार्ग को प्रार्थी के चक से विगत कर उसके मूल स्थान कायम नही किया गया है। इस पर जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी मेंहनगर को निर्देशित करते हुए कहा कि उपरोक्त चकमार्ग की ठीक से पैमाइश करायें, जिससे सही स्थान पर कायम हो सके।
प्रार्थी मोती पुत्र बुझारत, सा0 महुवारी, पर0 बेलादौलताबाद तहसील मेंहनगर द्वारा अवगत कराया गया कि प्रार्थी के मकान के सामने ग्राम सभा की जमीन पर सार्वजनिक रास्ता बना था, जिसमें गांव के ही कमला सागर, नरेश पुत्रगण रामआसरे व लक्षिमन पुत्र हरिदास आदि लोग रास्ते को काटकर अपने खेत में मिला कर जोत बो लिये हैं, जिससे लोगों को मेन रोड तक जाने में परेशानी हो रही है। आने-जाने का कोई दूसरा रास्ता नही है, विपक्षीगण दबंग किस्म के आदमी हैं। जिस पर जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी मेंहनगर को निर्देशित करते हुए कहा कि उक्त सार्वजनिक मार्ग पर आवश्यक कार्यवाही करते हुए चकमार्ग को खाली कराना सुनिश्चित करें।
प्रार्थिनी गिरजा सिंह (ग्राम प्रधान) ग्राम पंचायत बेनूपुर परगना बेलादौलताबाद तहसील मेंहनगर द्वारा अवगत कराया गया कि ग्राम पंचायत बेनूपुर में पोखरी खाते की भूमि है, जिसको मनई पुत्र सुरखुर द्वारा कब्जा किया गया है। जबकि उपजिलाधिकारी मेंहनगर द्वारा मनई पुत्र सुरखुर का नाम खारिज कर पोखरी खाते में दर्ज किया गया है, फिर भी पोखरी खाते की भूमि को नही छोड़ रहा है। इस पर मुख्य विकास अधिकारी डी0एस0 उपाध्याय ने तहसीलदार मेंहनगर को निर्देशित करते हुए कहा कि राजस्व की टीम भेजकर उक्त प्रकरण का निस्तारण कराना सुनिश्चित करें।
प्रार्थी रमेश प्रसाद मौर्य पुत्र रामउदित मौर्य ग्राम व पोस्ट रानीपुर रजमो थाना गम्भीरपुर तहसील मेंहनगर द्वारा अवगत कराया गया कि प्रार्थी का गांव चकबन्दी प्रक्रिया से गुजर रहा है, चकबन्दी प्रक्रिया के अन्तर्गत भूमिहीन आबादी हेतु सुरक्षित गाटा संख्या 433/50 कड़ी तथा खाद गड्ढ़ा हेतु सुरक्षित भूमि गाटा संख्या 433/100 कड़ी पर गांव के कुछ दबंग एवं मनबढ़ तथा गोलबन्दी व्यक्तियों द्वारा अतिक्रमण किया जा रहा है। जिस पर मुख्य विकास अधिकारी ने तहसीलदार मेंहनगर को निर्देशित करते हुए कहा कि उक्त प्रकरण पर आवश्यक कार्यवाही करना सुनिश्चित करें।
जिलाधिकारी शिवाकान्त द्विवेदी ने कहा कि यदि समस्याओं का निस्तारण प्रारम्भिक स्तर पर ही कर दिया जाए तो जनता को मुख्यालय तक नही जाना पड़ेगा। इसलिए अधिकारीगण प्राथमिकता के आधार पर प्रारम्भिक स्तर पर ही जन समस्या का वास्तविक निस्तारण कर दें।
उन्होने समस्त जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि सम्पूर्ण समाधान दिवस में प्राप्त हुए मामलों का समय से निस्तारण करना सुनिश्चित करें, इसमंे किसी प्रकार की लापरवाही/शिथिलता क्षम्य नही होगी।
पुलिस अधीक्षक त्रिवेणी सिंह ने पुलिस के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि समस्याआंे के निस्तारण करने मंे किसी प्रकार की लापरवाही न करें, इसे उच्च प्राथमिकता के आधार पर समस्याओं का निस्तारण करना सुनिश्चित करें।
इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ0 एके मिश्रा, पीडी अभिमन्यु सिंह, डीडीओ रवि शंकर राय, उप जिलाधिकारी मेंहनगर पंकज कुमार श्रीवास्तव, सीओ लालगंज अजय कुमार यादव, उप निदेशक कृषि डाॅ0 आरके मौर्य, जिला उद्यान अधिकारी बालकृष्ण वर्मा, जिला पूर्ति अधिकारी देवमणि मिश्र, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी साहित्य, जिला कार्यक्रम अधिकारी इफ्तेखार अहमद, तहसीलदार लालगंज ओम प्रकाश त्रिपाठी सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी तथा तहसील के संबंधित कर्मचारी उपस्थित रहे।

About Bharat Good News

error: Content is protected !!