Sunday , February 28 2021

प्रमुख समाचार


विज्ञापन

Home / राज्य / उत्तर प्रदेश / मायावती का सरकार पर हमला, कहा-‘निर्दोष किसान नेताओं को बलि का बकरा न बनाया जाए’

मायावती का सरकार पर हमला, कहा-‘निर्दोष किसान नेताओं को बलि का बकरा न बनाया जाए’

बहुजन समाज पार्टी ने भी केंद्र सरकार के तीन कृषि कानून के खिलाफ बजट सत्र से पहले संसद में राष्ट्रपति के अभिभाषण का विरोध किया। मायावती ने शुक्रवार को दो ट्वीट किए और किसानों के साथ खुलकर आने का फैसला किया।

मायावती ने लिखा कि बीएसपी ने देश के आंदोलित किसानों के तीन विवादित कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग नहीं मानने व जनहित आदि के मामलों में भी लगातार काफी ढुलमुल रवैया अपनाने के विरोध में, आज राष्ट्रपति के संसद में होने वाले अभिभाषण का बहिष्कार करने का फैसला लिया है।

उन्होंने आगे लिखा कि कृषि कानूनों को वापस लेकर दिल्ली आदि में स्थिति को सामान्य करने का केन्द्र से पुनः अनुरोध और गणतंत्र दिवस के दिन हुए दंगे की आड़ में निर्दोष किसान नेताओं को बलि का बकरा न बनाए। इस मामले में यूपी के बीकेयू व अन्य नेताओं की आपत्ति में भी काफी सच्चाई। सरकार ध्यान दे।

 

About Bharat Good News

error: Content is protected !!