Tuesday , October 27 2020

प्रमुख समाचार


विज्ञापन

Home / पूर्वांचल समाचार / आज़मगढ़ / बालिका सुरक्षा अभियान-पेंटिग के माध्यम से बालिका सुरक्षा का दिया संदेश

बालिका सुरक्षा अभियान-पेंटिग के माध्यम से बालिका सुरक्षा का दिया संदेश

रिर्पोट-विनोद सिंह सोनू

आजमगढ़ | बालिका सुरक्षा अभियान के तहत सोमवार को पुलिस कार्यालय के सामने वाल पेंटिग प्रतियोगिता आयोजित की गयी। वाल पेंटिग प्रतियोगिता में 14 संस्थानों की टीमों ने प्रतिभाग किया। उन्होंने अपनी पेंटिग के माध्यम से बालिका सुरक्षा का संदेश दिया। सीओ सिटी इलामारन ने प्रतियोगिता में भाग लेने वाले प्रतिभागियों के हौसले को शाबासी देकर बढ़ाया।

अभया महिला सेवा संस्थान ने पेंटिग के जरिए संदेश दिया कि आजादी के सत्तर साल बाद भी महिलाओं को पूरी तरह आजादी नहीं मिली। अनामिका सिंह पालीवाल, सोनी पांडेय, गीता विश्वकर्मा, अनीता सिंह ने अपनी पेंटिग के माध्यम से महिलाओं पर होने वाली हिसा आदि को बहुत ही बारीकी से दर्शाया। हुनर संस्थान के इंद्रजीत निषाद, अनुराधा राय, विकास सोनकर व सुनील विश्वकर्मा ने पेंटिग के माध्यम से नारी मां है, पत्नी व बहन भी है और शक्ति का स्वरूप भी है। नारी का सम्मान है तो नारी पर अत्याचार क्यों है, इसे दर्शाकर महिला सुरक्षा का संदेश दिया। जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान डायट की डा. भावना सिंह, सुगंधा यादव, श्रेया यादव, पूर्णिमा, तनू व स्मिता पटेल, अनुपमा राय ने पेंटिग के माध्यम से महिलाओं को संदेश दिया कि वे अपने अधिकार के प्रति आंसू न बहाएं, बल्कि लड़कर हासिल करें। इनरव्हील क्लब की अध्यक्ष रूचि अग्रवाल, सौम्या अस्थाना, पुष्पिता अस्थाना, प्रिया रंजन ने दर्शाया कि महिलाएं व बेटियां एक साथ रहें तो उनके साथ कोई भी घटना करने का साहस नहीं कर सकता। बेटियां आज के समाज में किसी से कम नहीं हैं। साज फाउंडेशन से डा. संतोष सिह, अर्जुन सिंह, निशा, विजेता, आकांशा साहू, प्रिया प्रजापति, प्रियंका भारद्वाज ने नारी सशक्तिकरण का संदेश दिया। फाइन आर्ट सेंटर की डा. लीना मिश्रा, वंचिता सेठ, स्वाती बरनवाल, श्रद्धा साहू की पेंटिग ने दर्शाया कि वृक्ष के समान बेटियां बढ़ती हैं, तो उसे बढ़ने से लोग रोकते हैं। बच्चियों की सुरक्षा प्रदान करें तो वे समाज के साथ ही परिवार को आगे ले जाने में सहायक होंगी। प्रतियोगिता में भविष्य दीप कला केंद्र, वीरांगना, तपस्या क्रिएटिव, बाबा विश्वनाथ, रामानंद सरस्वती पुस्तकालय के प्रतिभागियों ने भी प्रतिभाग किया।

About Bharat Good News

error: Content is protected !!