Thursday , April 22 2021

प्रमुख समाचार


विज्ञापन

Home / राज्य / उत्तर प्रदेश / बर्ड फ्लू को लेकर UP में अलर्ट,कानपुर चिड़ियाघर सील और लखनऊ जू में वन्य जीवों को चिकन की खुराक बंद

बर्ड फ्लू को लेकर UP में अलर्ट,कानपुर चिड़ियाघर सील और लखनऊ जू में वन्य जीवों को चिकन की खुराक बंद

लखनऊ, जेएनएन। देश के साथ अन्य राज्यों के साथ उत्तर प्रदेश में भी में बर्ड फ्लू की दस्तक के बीच योगी आदित्यनाथ सरकार ने हाई अलर्ट जारी किया है। कानपुर के चिड़ियाघर में बर्ड फ्लू का मामला सामने आने के बाद चिड़ियाघरको बंद कर दिया गया है जबकि लखनऊ के चिड़ियाघर के साथ दुधावा टाइगर रिजर्व में काफी सतर्कता बरती जा रही है।

देश में बर्ड फ्लू का संक्रमण केरल, राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा तथा गुजरात के साथ उत्तर प्रदेश में भी मिलने के बाद सरकार हाई अलर्ट पर है। महाराष्ट्र के साथ ही उत्तर प्रदेश और अन्य राज्यों में बीते एक हफ्ते से बड़ी संख्या में पक्षियों की मौत हो रही है। इनमें की सर्वाधिक संख्या कौआ की है। माना जा रहा है कि कौआ इन दिनों बर्ड फ्लू के चपेट में आने के कारण मर रहे हैं।

कानपुर में बर्ड बर्ड फ्लू का पहला केस: उत्तर प्रदेश में बर्ड फ्लू का पहले केस कानपुर के चिड़ियाघर में मिला है। यह केस सामने आने के बाद चिड़ियाघर को अनिश्चित काल के लिए बंद कर दिया गया है। कानपुर के चिड़ियाघर में रेड जंगल फाउल प्रजाति के मृत मिले मुर्गों की मौत बर्ड फ्लू से होने की पुष्टि हो गई है। यह बर्ड फ्लू से मौत का प्रदेश का पहला पुष्ट मामला है। इसकी पुष्टि नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हाई सिक्योरिटी एनीमल डिसीजेस भोपाल से होने के बाद शनिवार रात अफसरों ने चिड़ियाघर के सभी बाड़ों को बंद करा दिया है। इसके साथ चिड़ियाघर को दर्शकों के लिए अनिश्चितकाल तक बंद रखने का फैसला लिया गया है। चिड़ियाघर में बुधवार को सात मुर्गे मरे मिले थे। गुरुवार को तीन और की मौत हो गई। इनमें से दो मुर्गों का क्वैकल स्वैब (आंतरिक भाग का नमूना) जांच के लिए नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हाई सिक्योरिटी एनीमल डिसीजेस भोपाल भेजा गया था। दोनों जंगली मुर्गों में बर्ड फ्लू एच-5 की पुष्टि हुई है। इसके साथ एहतियातन यहां पर सभी पक्षियों को मारने का भी आदेश दिया गया है। अब चिड़ियाघर का एक किलोमीटर का दायरा कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। इसके साथ चिड़ियाघर के दस किमी के दायरे में मांस की दुकानों को भी बंद करा दिया गया है।

 

About Bharat Good News

error: Content is protected !!