Sunday , February 28 2021

प्रमुख समाचार


विज्ञापन

Home / राज्य / पश्चिम बंगाल / बंगाल में 22 फरवरी के बाद हो सकता है विधानसभा चुनाव का एलान

बंगाल में 22 फरवरी के बाद हो सकता है विधानसभा चुनाव का एलान

कोलकाता, राज्य ब्यूरो। बंगाल में विधानसभा चुनाव को लेकर सियासत गर्म है। वहीं बंगाल में चुनाव तिथि की घोषणा कब होगी इस पर सब की निगाहें टिकी है। खबर आ रही है कि बंगाल में चुनाव का एलान 22 फरवरी के बाद हो सकता है। क्योंकि, 22 फरवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बंगाल के दौरे पर आ रहे हैं।

जिसमें वह कई योजनाओं के उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे। इसके बाद ही चुनाव तिथि की घोषणा होने की बात कही जा रही है। बंगाल में वैसे भी विधानसभा चुनाव अप्रैल-मई में होते रहे हैं। निर्वाचन आयोग ने भी तैयारी करीब-करीब पूरी कर ली है। इधर, मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी एक के बाद योजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास कर रही हैं। क्योंकि चुनाव तिथि घोषित होते ही आचार संहिता लागू हो जाएगा।

ममता भी चुनावी सभा में पहले ही कह चुकी हैं कि जल्द ही मतदान की तिथि की घोषित हो सकती है और कार्यकर्ताओं को तैयार रहने को कहा है। ममता ने कुछ दिन पहले ही मालदा की रैली में कार्यक्रताओं से अपील करते हुए कहा था कि आगामी कुछ दिनों में चुनाव की घोषणा हो जाएगी। इसलिए आप सभी लोग तैयार रहें। माना जा रहा है कि आगामी सप्ताह चुनाव का एलान हो सकता है।

भाजपा जुटी परिवर्तन यात्रा की तैयारी में

भारतीय जनता पार्टी परिवर्तन यात्रा के नाम पर एक- एक परिवार को जोड़ने की कोशिश में लगी है। कूचबिहार से 11 फरवरी को प्रारंभ हुई परिवर्तन यात्रा रथ के आगमन को लेकर दार्जिलिंग और डाबग्राम फूलबाड़ी में पार्टी नेताओं की तैयारी जोरों पर है।

यहां दार्जिलिंग के तीन और सिलीगुड़ी महकमा के तीन यानि कुल छह विधानसभा क्षेत्र के लोगों को लेकर एक बड़ी सभा का आयोजन होगा। इसमें प्रमुख वक्ता के रुप में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बुलाने की तैयारी है। इसके लिए सभा मे होने वाले भीड़ को देखते हुए स्थान का चयन किया जा रहा है। इसके माध्यम से भाजपा बंगाल की वर्तमान सरकार पर कटमनी और तृष्टिकरण नीति पर जमकर हमला बोलने वाली है।

परिवर्तन यात्रा के सभा में योगी आदित्यनाथ के साथ स्थानीय सांसद व बंगाल के कई बड़े नेता मौजूद रहेंगे। आधिकारिक रुप से जब-तक योगी आदित्यनाथ का आना सुनिश्चित नहीं होता है तब-तक भाजपा की ओर से इस संबंध में कोई भी खुलासा नहीं किया जा रहा है। भाजपा इस सभा के माध्यम से चुनाव पूर्व इसे सेमीफाइनल बनाने में जुटी है। भाजपा एक ही नारे पर काम कर रही है 2019 में हाफ तो 2021 में तृणमूल कांग्रेस को साफ करना है।

About Bharat Good News

error: Content is protected !!