Friday , April 23 2021

प्रमुख समाचार


विज्ञापन

Home / राज्य / पश्चिम बंगाल / बंगाल में चुनाव के दौरान तैनात होंगी अर्धसैनिक बलों की 820 कंपनियां

बंगाल में चुनाव के दौरान तैनात होंगी अर्धसैनिक बलों की 820 कंपनियां

चुनाव आयोग राज्य में शांतिपूर्ण तरीके से चुनाव कराने के लिए विशेष तौर पर ध्यान दे रहा है और यहां भारी सुरक्षा की तैयारी कर रहा है। बंगाल चुनाव के दौरान हिंसा को ध्यान में रखते हुए चप्पे- चप्पे पर अर्धसैनिक बलों की सुरक्षा रहेगी। आठ चरणों के चुनाव के दौरान 820 अर्धसैनिक बलों की कंपनियां तैनात होंगी। सूत्रों के मुताबिक पांच राज्यों में बंगाल में सबसे ज्यादा अर्धसैनिक बलों की कंपनियां तैनात की जा रही है।

तारीखों के ऐलान से पहले तैनाती

बंगाल चुनाव के चलते सुरक्षा का स्तर इस बार राज्य में उच्चतम होगा, पिछले विधानसभा चुनाव के मुकाबले इस बार 25 फीसद अतिरिक्त सुरक्षाबलों की तैनाती की योजना है। यानी आठ चरणों के चुनाव में कुल मिलाकर 80,000 अर्धसैनिक बल राज्य के हर जिले में मौजूद रहेंगे। पहली बार ऐसा हुआ है कि चुनाव की तारीख के ऐलान से पहले हर जिले में अग्रिम तैनाती अर्धसैनिक बलों की कर दी गई है। राज्य में हिंसा और अराजकता को रोकने के लिए सुरक्षा एजेंसियों ने यह मास्टर प्लान तैयार किया है।
पहले चरण के लिए 295 कंपनियां होंगी तैनात

सूत्रों के मुताबिक चुनाव के दौरान कानून व्यवस्था की स्थिति खराब न हो इसलिए चुनाव के हर एक चरण में अर्धसैनिक बलों और राज्य की पुलिस की कंपनियों को रोटेशन के आधार पर चुनाव संपन्न कराने के लिए भेजा जाएगा। बंगाल में पहले चरण के चुनाव को लेकर अंतिम रूप दे दिया गया है। 295 सीएपीएफ की कंपनियों की बंगाल के अलग-अलग इलाकों में तैनाती होगी। बंगाल में कुल 125 पैरामिलिट्री फोर्स की कंपनियों को पहले ही तैनात किया जा चुका है। आठ मार्च तक 170 कंपनियों को और भेजा जाएगा। यानी कुल 295 पैरामिलिट्री फोर्स की कंपनियों को बंगाल के पहले चरण के चुनाव में तैनात किया जा रहा है।

About Bharat Good News

error: Content is protected !!