Saturday , November 28 2020

प्रमुख समाचार


विज्ञापन

Home / अपराध / निजामाबाद- राम जानकी मंदिर से करोड़ों की मूर्ति चोरी

निजामाबाद- राम जानकी मंदिर से करोड़ों की मूर्ति चोरी

आजमगढ़-डेस्क-रिपोर्ट-संतोष कुमार मिश्रा- तहसील-निजामाबाद 

आजमगढ़। निजामाबाद थाना क्षेत्र के परवेजाबाद स्थित प्राचीन राम जानकी मंदिर में स्थापित भगवान श्रीराम, जानकी और लक्ष्मण की अष्टधातु की मूर्ति शुक्रवार की रात चोरी हो गई। जानकारी शनिवार को तब हुई जब पुजारी मंदिर पहुंचे। करोड़ों की मूर्ति चोरी होने की जानकारी होने पर प्रशासन में भी हड़कंप मच गया। अधिकारी फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट और डाग स्क्वायड टीम केे साथ मौके पर पहुंच गए। घंटों की मशक्कत के बाद भी मूर्ति अथवा चोरों का कोई सुराग नहीं लगा। बताते हैं कि परवेजाबाद गांव में वर्ष 1872 में शिवकुमार गुप्ता के परिजनों द्वारा भव्य श्रीराम जानकी मंदिर का निर्माण कराया गया था। मंदिर में भगवान श्रीराम, सीता और लक्ष्मण की अष्टधातु से बनी मूर्ति स्थापित थी। आज के समय में उन मूर्तियों की कीमत अंतराष्ट्रीय मार्केट में करोड़ों रूपये बताई जा रही हैं। शुक्रवार की रात पूजन अर्चन के बाद पुजारी मंदिर बंद कर चले गये। इसी बीच रात में चोर मंदिर में घुसकर तीनों मूर्तियां उठा ले गये। शनिवार की अलसुबह जब मंदिर के पुजारी शिवकुमार गुप्ता पूजन के लिए के लिए गये तो देखा मंदिर का दरवाजा पहले से खुला था। अंदर सिंहासन से श्रीराम, सीता और लक्ष्मण की मूर्ति गायब थी। उन्होंने इसकी जानकारी परिजनों को दी तो थोड़ी ही देर में यह बात पूरे क्षेत्र में फैल गयी। घटना की जानकारी पुलिस को दी गयी। थानाध्यक्ष निजामाबाद फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। थोड़ी ही देर में क्षेत्राधिकारी नगर फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट और डाग स्क्वायड टीम के साथ मौके पर पहुंच गये। खोजी कुतिया को मंदिर से लेकर गलियों तक घुमाया गया लेकिन कोई लाभ नहीं मिला। इसके पूर्व भी क्षेत्र में कई बार मूर्तियां गायब हो चुकी हैं। निजामाबाद कस्बा स्थित राधा कृष्ण मंदिर, दत्तात्रेय धाम से दो बार राम जानकी की मूर्ति, बेलवा बनहरा मंदिर से भी राम,जानकी,लक्ष्मण मूर्तियां, सीताराम मसलमपट्टी रामजानकी मंदिर से राम जानकी की मूर्ति गायब हो चुकी है। दत्तात्रेय धाम को छोड़ दे ंतो पुलिस आज तक एक भी मामले का खुलासा नहीं कर सकी है।

About Bharat Good News

error: Content is protected !!