Wednesday , September 30 2020

प्रमुख समाचार


विज्ञापन

Home / पूर्वांचल समाचार / आज़मगढ़ / टीबी मरीजों को झाड़ू बनाने का दिया जा रहा प्रशिक्षण

टीबी मरीजों को झाड़ू बनाने का दिया जा रहा प्रशिक्षण

आजमगढ़-डेस्क-रिपोर्ट-अनुराग सागर-सिटी रिपोर्टर 

आजमगढ़। जिले के टीबी के मरीजों के अब अच्छे दिने आने वाले हैं। कारण कि सरकार अक्षय परियोजना के तहत टीबी मरीजों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए प्रशिक्षित किया जा रहा है। वालेन्टरी हेल्थ एसोसिएशन आॅफ इण्डिया और यूनियन बैक ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान द्वारा तहबरपुर विकास खण्ड के कोइनहा बाजार में टीबी मरीजों और उनके परिवार के लोगोें को झाडू बनाने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है।
अक्षय परियोजना के जिला समन्वयक डा. संजय पाण्डेय ने बताया कि टीबी एक संक्रामक बिमारी है जो निम्न आय वर्ग के लोगों में ज्यादा पायी जाती है। टीबी मरीजों में 70 प्रतिशत मरीज 15 से 54 वर्ष आयु वर्ग के होते हैं। बिमारी की वजह से मरीज को 3 से 4 माह तक आराम करने की आवश्यकता होती है जिससे उनकी पारिवारिक आय 30 से 40 प्रतिशत तक कम हो जाती है और परिवार आर्थिक तंगी का सामना करने के लिए विवश हो जाता है। ऐसे मरीजोें को आत्मनिर्भर बनाने के लिए उक्त प्रशिक्षण का आयोजन किया गया।यूनियन बैक ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान के फैकल्टी मेम्बर चन्द्रेश पाठक ने बताया कि झाडू बनाने का कार्य कम पॅूजी से शुरू किया जा सकता है और इसकी खपत प्रत्येक परिवार में होती है। जहां प्रति माह एक झाडू की आवश्यकता तो होती ही है। उन्होने कहा कि झाडू की बिक्री के लिए कही दूर जाने की आवश्यकता नही है, सभी प्रतिभागी झाडू बनाकर अपने आस-पास के घरों और गांवों में आसानी से बेच कर अपनी आर्थिक स्थिति को सुदृढ़ कर सकते है। प्रशिक्षक ओम प्रकाश ने द्वारा दिया गया। इस मौके पर निखिलेश पाण्डेय, उमाशंकर शर्मा, प्रियका यादव आदि उपस्थित थी।

About Bharat Good News

error: Content is protected !!