Sunday , October 25 2020

प्रमुख समाचार


विज्ञापन

Home / पूर्वांचल समाचार / आज़मगढ़ / जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जून माह की समीक्षा बैठक सम्पन्न

जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जून माह की समीक्षा बैठक सम्पन्न

रिर्पोट-विनोद सिंह सोनू

आजमगढ़ | जिलाधिकारी नागेन्द्र प्रसाद सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार मे माह जून की मासिक समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई।
इस अवसर पर जिलाधिकारी द्वारा कर-करेत्तर की समीक्षा की गयी। कर राजस्व के अन्तर्गत स्टाम्प एवं पंजीकरण, राजस्व उत्पाद शुल्क (आबकारी), वाहन कर/माल एवं यात्री कर तथा विद्युत कर एवं शुल्क तथा करेत्तर राजस्व के अन्तर्गत वानिकी एवं वन्य जीव, भू-तत्व धातुकर्म (खनन विभाग), लोक निर्माण विभाग (सड़क-पुल), नगर विकास विभाग तथा कृषि मण्डी समिति, बाॅट-माप, सड़क सुरक्षा के राजस्व वसूली की विस्तार से समीक्षा की गयी।
समीक्षा के दौरान कर राजस्व में पाया गया कि भू-राजस्व में माह का प्राप्ति प्रतिशत 38.17 तथा क्रमिक प्राप्ति का प्रतिशत 18.97, करेत्तर राजस्व के अन्तर्गत वानिकी एवं वन्य जीव के माह का प्राप्ति प्रतिशत 39.49 तथा क्रमिक प्राप्ति का प्रतिशत 13.87, बाॅट माप के माह का प्राप्ति प्रतिशत 113.45 तथा क्रमिक प्राप्ति का प्रतिशत 16.59 है। जिसपर जिलाधिकारी ने समस्त कर/करेत्तर राजस्व के संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये कि वसूली के संबंध में माहवार कार्ययोजना बनाकर एक सप्ताह के अन्दर उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। उन्होने डीएफओ को निर्देशित करते हुए कहा कि जनपद में चल रहे अवैध आरा मशीनों की सूची तैयार करें तथा उनको सीज करने की कार्यवाही करना सुनिश्चित करें।
जिलाधिकारी ने एडीएम वि0/रा0 से कहा कि इस समय संचारी रोग नियंत्रण माह जुलाई अभियान चल रहा है, तथा इसमें कोई भी अधिशासी अधिकारी नगर पालिका/नगर पंचायत बिना अनुमति के मुख्यालय नही छोड़ेगा, इस संबंध में अपने स्तर से कार्यवाही करें। जिलाधिकारी ने बाॅट माप के संबंधित अधिकारी को निर्देश दिये कि उपजिलाधिकारी, जिला पूर्ति अधिकारी से समन्वय स्थापित कर जनपद में चल रहे पेट्रोल पम्पों की जांच हेतु कार्ययोजना बनाकर उपलब्ध करायें।
जिलाधिकारी ने खाद्य सुरक्षा अधिकारी को बताया कि इस समय संचारी रोग माह जुलाई अभियान चल रहा है, जिसमें आपके विभाग की महत्वपूर्ण भूमिका है, इसी के साथ ही निर्देश दिये कि आजमगढ़, मुबारकपुर, सरायमीर आदि क्षेत्रों में अभियान चलाकर खाद्य पदार्थाें आदि की जांच करें तथा अपने विभाग के सभी संबंधित अधिकारियों के नाम व मोबाइल नम्बर की सूची बनाकर समस्त उपजिलाधिकारी को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।
इसी के साथ ही साथ आबकारी अधिकारी को निर्देश दिये कि वसूली मे तेजी लाने के लिए समस्त संबंधित आबकारी निरीक्षकों को वसूली का लक्ष्य आवंटित करना सुनिश्चित करें।
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वि0/रा0 गुरू प्रसाद सहित संबंधित विभाग के अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित रहे।

About Bharat Good News

error: Content is protected !!