Tuesday , October 27 2020

प्रमुख समाचार


विज्ञापन

Home / पूर्वांचल समाचार / आज़मगढ़ / जनता की समस्याओं का निस्तारण भी उच्च प्राथमिकता के आधार पर करें-जगत राज

जनता की समस्याओं का निस्तारण भी उच्च प्राथमिकता के आधार पर करें-जगत राज

रिर्पोट- ज्ञानेन्द्र चतुर्वेदी

आजमगढ़| आयुक्त आजमगढ़ मण्डल आजमगढ़ जगत राज की अध्यक्षता में आयुक्त सभागार में विकास प्राथमिकता कार्यक्रमों, कानून-व्यवस्था, कर करेत्तर एवं अन्य राजस्व कार्यों, स्थानीय निकायों की समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई।
इस अवसर पर आयुक्त ने सभी विभाग के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि अपने संबंधित विभाग के कार्य को युद्ध स्तर पर करें, यदि इसमें कोई भी अधिकारी/कर्मचारी कार्य में लापरवाही/शिथिलता बरतता है तो अपने स्तर से उसके विरूद्ध कार्यवाही करें। उन्होने कहा कि जनता की समस्याओं का निस्तारण भी उच्च प्राथमिकता के आधार पर करें। यदि को शिकायतकर्ता शिकायत करता है तो उसके शिकायतों का निस्तारण करें तथा शिकायतकर्ता को संतुष्ट भी करें, जिससे कि शिकायतकर्ता बार-बार शिकायत न करे।
उन्होने यह भी कहा कि यदि कोई अधिकारी/कर्मचारी किसी भी स्तर पर भ्रष्टाचार में संलिप्त पाया जाता है तो उसके ऊपर कड़ी कार्यवाही की जायेगी। इसी के साथ ही उन्होने यह भी कहा कि अपने कार्यालय में समय से उपस्थित हों और कार्यालय में बैठें तथा अपने कार्यालय की साफ-सफाई पर भी विशेष ध्यान दें।
उन्होने समस्त नगर पालिका/नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि सफाई हेतु एक माह का विशेष अभियान अपने-अपने क्षेत्रों चलाना सुनिश्चित करें। सफाईकर्मी अपने-अपने क्षेत्रों में दोनों मीटिंग कार्य करें, जिनके क्षेत्र में सफाई न पायी जाये उसके, विरूद्ध कड़ी कार्यवाही करें। इसी के साथ ही साथ नगर निकायवार सफाई की वार्डवार कार्ययोजना बनाकर सफाई व्यवस्था सुनिश्चित करायें तथा सफाई कार्य की मानीटरिंग भी करें तथा बनाये हुए कार्ययोजना को उपलब्ध करायें।
पाॅलीथीन के संबंध में उन्होने यह निर्देश दिया कि पाॅलीथीन हटाने के लिए विशेष अभियान चलायें तथा इस अभियान के अन्तर्गत पाॅलीथीन को जब्त तथा जुर्माना की वसूली करें। उन्होने कहा कि नालों में पड़े हुए पाॅलीथीन की सफाई करायें तथा सड़कों पर पड़े हुए पाॅलीथीन को भी साफ करायें। उन्होने समस्त अधिशासी अधिकारी नगर पालिका/नगर पंचायत से कूड़ा निस्तारण के लिए डम्पिंग ग्राउण्ड के बारे में जानकारी प्राप्त की। उन्होने यह भी कहा कि जो नगर निकाय अभी तक ओडीएफ घोषित नही हुए हैं, उन्हें 30 जून 2019 तक ओडीएफ घोषित कराये जाय तथा क्यूसीआई से प्रमाण पत्र लिया जाय।
उन्होने संयुक्त निदेशक पशुपालन को निर्देशित करते हुए कहा कि मण्डल में बने हुए अस्थायी गोवंश आश्रय स्थल की मानीटरिंग करें तथा प्रत्येक अस्थायी गोवंश आश्रय स्थल पर एक-एक डाॅक्टर नियुक्त करें तथा उसकी रिपोर्ट उपलब्ध करायें।
आयुक्त ने समस्त नगर पालिका/नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि प्रतिदिन निराश्रित पशुओं को विशेष अभियान चलाकर पकड़ें तथा इसी के साथ ही अस्थायी गोवंश आश्रय स्थल में निराश्रित पशुओं के खाने के लिए भूसा, पानी तथा शेड की व्यवस्था कराना सुनिश्चित करें। जो गोवंश पालक अपने जानवरों को सड़क के बीच में खड़ा कर रहे हैं, उसे पकड़कर गोवंश पालक पर जुर्माना लगाया जाय तथा जानवरों को शहर से बाहर किया जाय।
आयुक्त आजमगढ़ ने मुख्य विकास अधिकारी आजमगढ़, मऊ, बलिया को निर्देश दिया कि अस्थायी गोवंश आश्रय स्थल के संचालन में मुख्य भूमिका निभायें, तथा इसी के साथ ही अपने दायित्वों का निर्वहन करें।
आयुक्त आजमगढ़ द्वारा अमृत योजना, स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत शौचालय, प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण एवं शहरी, मनरेगा, सोशल सेक्टर की पेंशन योजनाएं, राशन कार्ड वितरण, आयुष्मान भारत योजना, वृक्षारोपण अभियान, शहरों में नालों को टैप किये जाने की प्रगति आदि योजनाओं की विस्तार से समीक्षा किया गया।
शौचालय निर्माण के संबंध में आयुक्त ने उप निदेशक पंचायत को निर्देशित करते हुए कहा कि शौचालय निर्माण की सघन मानीटरिंग करें तथा बने हुए शौचालयों की जीओ टैगिंग करायें। कोई अधिकारी/कर्मचारी शौचालय के पैसे के गबन में संलिप्त पाया जाता है तो उस पर कार्यवाही करें तथा अधूरे शौचालय का निर्माण जल्द से जल्द पूर्ण करायें।
आयुक्त ने मनरेगा की समीक्षा में मुख्य विकास अधिकारी आजमगढ़, मऊ, बलिया को निर्देश दिया कि मानव सृजन दिवस शत प्रतिशत कराना सुनिश्चित करें। पेंशन के संबंध में उन्होने उप निदेशक समाज कल्याण को निर्देश दिया कि पेंशन के संबंध जो आवेदन प्राप्त हुए हैं, उनका सत्यापन का कार्य पूर्ण करायें।
आयुक्त ने राशन कार्ड वितरण की समीक्षा में जिला पूर्ति विभाग के अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि राशन कार्ड हर पात्र व्यक्ति का होना चाहिए, राशन कार्ड के वितरण में किसी भी प्रकार की लापरवाही न करें।
आयुक्त ने आयुष्मान भारत योजना के अन्तर्गत अपर निदेशक स्वास्थ्य को निर्देशित करते हुए कहा कि आयुष्मान भारत योजना के अन्तर्गत जिन अस्पतालों का इम्पैनलमेण्ट लम्बित है, उसे जल्द से जल्द इम्पैनलमेण्ट करना सुनिश्चित करें। इसी के साथ ही साथ गोल्डेन कार्ड का वितरण लाभार्थियों को शत-प्रतिशत कराना सुनिश्चित करें।
उन्होने मुख्य अभियन्ता पीडब्ल्यूडी को निर्देशित करते हुए कहा कि जिन सड़कों को गड्ढ़ा मुक्त कराना है, उसे बरसात से पूर्व गड्ढ़ा मुक्त कराना सुनिश्चित करें।
इसी के साथ ही साथ आयुक्त द्वारा 05 वर्षाें से पुराने लम्बित वाद तथा राजस्व से संबंधित लम्बित वाद आईजीआरएस सम्पूर्ण समाधान दिवस में जमीन विवाद, अवैध खनन, मैप डिजीटाइजेशन, चकबन्दी में 05 वर्ष से लम्बित प्रकरण तथा लम्बित पेंशन प्रकरण को निस्तारण करने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिया।
आयुक्त ने कर-करेत्तर के संबंध में जून से वूसली बढ़ाने के निर्देश अपर जिलाधिकरी वि0/रा0 आजमगढ़, मऊ, बलिया को दिये।
इस अवसर पर जिलाधिकारी आज़मगढ़ शिवाकान्त द्विवेदी, जिलाधिकारी मऊ ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी, जिलाधिकारी बलिया भवानी सिंह खंगारौत, पुलिस अधीक्षक आज़मगढ़ त्रिवेणी सिंह, पुलिस अधीक्षक मऊ, पुलिस अधीक्षक बलिया, सीडीओ आज़मगढ़ डीएस उपाध्याय, सीडीओ मऊ, सीडीओ बलिया, वन संरक्षक, अपर निदेशक स्वास्थ, मुख्य अभियन्ता विद्युत, उप निदेशक पंचायती राज/संयुक्त विकास आयुक्त, अपर जिलाधिकारी प्रशासन आजमगढ़ नरेन्द्र सिंह, अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) आजमगढ़ गुरू प्रसाद, मुख्य राजस्व अधिकारी आजमगढ़ हरी शंकर सहित अन्य मण्डलीय एवं जनपदीय अधिकारी उपस्थित थे।

About Bharat Good News

error: Content is protected !!