Wednesday , November 25 2020

प्रमुख समाचार


विज्ञापन

Home / पूर्वांचल समाचार / आज़मगढ़ / खड़ी फसल पर मनबढ़ों द्वारा टै्रक्टर चलाये जाने का विरोध

खड़ी फसल पर मनबढ़ों द्वारा टै्रक्टर चलाये जाने का विरोध

आजमगढ़ डेस्क-रिपोर्ट -सौरभ निगम-सिटी रिपोर्टर 
आजमगढ़। एसओ की मौजूदगी में खड़ी फसल पर मनबढ़ों द्वारा टै्रक्टर चलाये जाने का मामला जोर पकड़ लिया और इसी को लेकर शनिवार को हिन्दु युवा वाहिनी के पूर्व संयोजक हरिवंश मिश्रा के नेतृत्व में पीड़ित के साथ एक प्रतिनिधिमंडल पुलिस अधीक्षक से मिलने पहुंचा। एसपी ने प्रकरण को निस्तारित करने के लिए तीन दिन का समय मांगा।
  पुलिस अधीक्षक से पीड़िता मिथिलेश व उनके पति कृष्णमोहन उपाध्याय ने बताया कि ग्राम नवली के गाटा संख्या 58 रकबा 859 कड़ी, आराजी 313 रकबा 1.880 कड़ी, आराजी न. 314 रकबा 0.060 कड़ी, आराजी न. 349 रकबा 0.050 कड़ी व आराजी न0 352 रकबा 0.175 कड़ी का विवाद संतोष कुमार पांडेय से था। 30 मई 2013 को न्यायालय अवर सिविल जज (अवर खंड) कोर्ट नम्बर 14 द्वारा न्याय करते हुए मेरे पक्ष में फैसला हुआ। चार वर्ष बाद 28 दिसम्बर 2017 को दोपहर 2 बजे विपक्षी संतोष कुमार पांडेय ने एसआई कप्तानगंज मनोज कुमार सिंह से सांठगांठ करते हुए उक्त हमारे खेत में टै्रक्टर चलवा दिया गया और जिसमे बोई फसलों को बर्बाद कर दिया गया। मेरी पत्नी मिथिलेश ने जब इसका विरोध किया तो मौके पर मौजूद एसआई कप्तानगंज ने मेरी पत्नी के साथ अभ्रदता किया और उसे धक्का देकर गिरा दिया और जमकर गाली गलौच दिया। एसआई द्वारा धक्का दिये जाने से मेरी पत्नी को अंदरूनी चोटें आयी है। इसके बाद जब मै थाने पर तहरीर लेकर पहुंचा तो मुझे भी थाने में अपमानित करके भगा दिया गया।
इस दौरान भाजपा नेता कृपाशंकर पाठक ने कहा कि सरकार को बदनाम करने में जनपद की पुलिस कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही है, जो निन्दनीय है। न्यायालय के आदेश का भी पुलिस को तनिक डर नहीं रह गया है। श्री पाठक ने आगे बताया कि हमारे निवेदन पर जब एसपी ने एसओ से मामले की जानकारी लिया तो एसओ ने उन्हें बताया कि भाजपा के एक बड़े पदाधिकारी के दबाव में ऐसा किया गया है। मामले की पूरी घटना को समझने के बाद प्रतिनिधिमंडल से एसपी ने तीन दिन का समय मांगा और एसपी ग्रामीण को निर्देशित किया कि पूरे मामले का शीध्र निस्तारण कर न्यायसंगत कार्यवाही करें।
हिन्दु युवा वाहिनी के पूर्व संयोजक हरिवंश मिश्र ने कहा कि अगर तीन दिन में अगर दोषियों के खिलाफ कार्यवाही नहीं किया गया तो आगे की रणनीति बनाने को विवश हो जायेंगे।
प्रतिनिधिमंडल में हरिवंश सिंह, राकेश सिंह, रामसकल चौहान, शाहिद अहमद, हलधर दुबे, अरूण सिंह साधू, राजेश चौबे, विष्णुकांत चौबे, सौरभ गुप्ता, अजय सिंह, अजय मौर्या, उग्रसेन  यादव, इजहार अहमद, उमेश यादव, राहुल मिश्र, सत्यम, कृष्ण मोहन, बृजेश दुबे सहित हिन्दु संगठन के सदस्य मौजूद रहे।

 

About Bharat Good News

error: Content is protected !!