Wednesday , September 30 2020

प्रमुख समाचार


विज्ञापन

Home / पूर्वांचल समाचार / आज़मगढ़ / आधुनिक अन्नदाता अभियान- डीएम व एसपी ने की दीप प्रज्ज्वलित कर शुरूआत

आधुनिक अन्नदाता अभियान- डीएम व एसपी ने की दीप प्रज्ज्वलित कर शुरूआत

आजमगढ़-डेस्क-रिपोर्ट-सौरभ निगम-सिटी रिपोर्टर 

आजमगढ़। वर्ष 2022 तक किसानों की आय दूना करने के वादे को पूरा करने के लिए भाजपा सरकार ने कदम बढ़ा दिया है। आधुनिक अन्नदाता विशेष अभियान के जरिये सरकार किसानों का पारंपरिक खेती के साथ ही बागवानी और पशुपालन आदि के लिए प्रेरित करेगी। जिलाधिकारी चन्द्र भूषण सिंह एवं पुलिस अधिक्षक अजय कुमार साहनी ने सोमवार को संयुक्त रूप से आधुनिक अन्नदाता विशेष अभियान की शुरूआत दीप प्रज्ज्वलित कर किया। इस अवसर पर जिलाधिकारी श्री सिंह ने बताया कि यह अभियान सर्वप्रथम 2016 में रूहेलखण्ड से इसकी शुरूवात हुई है। इस अभियान का उद्देश्य किसानों को आधुनिक खेती अपनाते हुए, मृदा परीक्षण करने तथा सन्तुलित खेती के बारे में जागरूक करना है।
वरिष्ठ कृषि वज्ञैनिक डा. आरके सिंह ने बताया कि किसान खेती के अलावा पौधों की नर्सरी, बागवानी, मुर्गीपालन, बकरीपालन से अपनी आय को दोगुनी कर सकते है। यह कार्यक्रम कृषि के उत्थान के लिए है। उन्होने बताया कि किसान चैनल शुरू किया गया है इस चैनल में विशिष्ठ वैज्ञानिक द्वारा खेती के विभिन्न वैज्ञानिक विधियों को बताया जाता है। इस चैनल से किसानो को इसका लाभ उठाना चाहिए। उन्होने किसानो को डिजिटल खेती के प्रति जागरूक किया। उन्होने बताया कि कृषि से सम्बन्धित कृषि ऐप विकसित किया गया है उसे डाउनलोड करके इन्स्टाल कर लें। तथा किसान रोग ग्रसित पौधों को फोटा खीच कर भेज दे और उसे पौधे के रोग का निदान का पता चल जायेगा। इसको अपनाने से कृषि की लागत में बहुत बचत हो जायेगी। इसी क्रम में उन्होने बताया कि गेहूं के खेतांे में वनपालक, मकोय, सत्यानाशी आदि घासे जो खेतों में मौजुद है। इसकी सामयिक रोकथाम के लिए दवाओं के बारे में किसानों को बताया। मृदा वैज्ञनिक डा. रणधीर नायक ने बताया कि भूमि की मृदा परीक्षण से भूमि की उर्वरा शक्ति का पता लगाया, भूमि को ह्रास होने से रोकना तथा विभिन्न प्रकार के फसलों को भूमि के अनुसार लगाने की जानकारी प्राप्त होती है। भूमि में कम्पोस्ट या गोबर की खाद डालने से भूमि सही रहती है। कृषि वैज्ञानिक डा. एलसी वर्मा ने बताया कि खेती को मजबूत करने के लिए पशुपालन करना आवश्यक है। उन्होने बताया किसानो को दुधारू नस्ल की पशु रखना चाहिए। आधुनिक अन्नदाता विशेष अभियान के तहत किसानों को जागरूक करने के लिए विभिन्न विभागों द्वारा स्टाल लगाये थें जिसमंे पशुपालन विभाग, जिला स्वच्छता समिति, कृषि विभाग, उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग के स्टाल लगायी गयी थी। इस अवसर पर किसानों ने बढ़चढ़ कर हिस्स लिया तथा लगाये गये स्टालों से विभिन्न प्रकार की जानकारी प्राप्त किए तथा कृषि वैज्ञानिकों द्वारा दिए गये सलाह के बारे में भी जाना। मुन्नालाल लोकगीत गायक ने अपने गीत के माध्यम से किसानों को सरकारी की योजनाओं को बारे में बताया। इस अवसर पर परियोजना निदेशक देवदत्त शुक्ल, जिला विकास अधिकारी विजय कुमार, उप निदेशक कृषि डा. आरके मौर्य, जिला कृषि अधिकारी उमेश कुमार गुप्ता, जिला पंचायतीराज अधिकारी जितेन्द्र कुमार मिश्र, भाजपा जिलाध्यक्ष प्रेम प्रकाश राय सहित किसान बन्धु उपस्थित रहें।

About Bharat Good News

error: Content is protected !!