Saturday , September 26 2020

प्रमुख समाचार


विज्ञापन

Home / पूर्वांचल समाचार / आज़मगढ़ / आजमगढ़ को तोहफा-1347 गरीबों को मिलेगा शहरी आवास

आजमगढ़ को तोहफा-1347 गरीबों को मिलेगा शहरी आवास

आजमगढ़-डेस्क-रिपोर्ट-ज्ञानेंद्र चतुर्वेदी-सिटी रिपोर्टर 

आजमगढ़। निकाय चुनाव के ठीक बाद बीजेपी सरकार ने मुलायम के संसदीय क्षेत्र आजमगढ़ को बड़ा तोहफा दिया है। प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना के तहत जिले की पांच और डीपीआर को शासन से मंजूरी मिल गई है। अब जिले में कुल 1347 शहरी आवास बनाए जाएंगे। इसके पहले केवल एक डीपीआर में अजमतगढ़ के लिए 119 आवास को मंजूरी मिली थी। यह अलग बात है कि अभी यहां भी कार्यदायी संस्थाओं ने काम शुरू नहीं किया है।
बता दें कि प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना के तहत डूडा की ओर से अभी तक छह निकायों की कुल सांत डीपीआर बनाकर भेजी गई है। छह अन्य पर अभी सर्वे और वौरीफिकेशन आदि का कार्य चल रहा है। इसमें अजमतगढ़ को पहले फेज के एक डीपीआर को कुछ दिनों पहले ही मंजूरी मिली थी। इसमें कुल 119 आवास बनने थे। इसके अलावा डूडा की ओर से जीयनपुर में 378, बिलरियागंज में 310, निजामाबाद में 257 महाराजगंज में 129 और अजमतगढ़ द्वितीय में 154 और मेंहनगर में 74 आवासों की डीपीआर बनाकर राज्य नगरीय विकास अभिकरण (सूडा) को भेजा गया था। इसमें मेंहनगर को छोड़ सभी को स्वीकृति दे दी गई है। सूडा की ओर से सरयू बाबू इंजीनियरिंग रिर्सोस डेवलेपमेंट कंपनी का इसे बनाने के लिए कार्यदायी संस्था तय की गई है। हालांकि अभी इसकी ओर से कोई कार्य शुरू नहीं किया गया है। पीओ डूडा डॉ. महेंद्र प्रसाद ने बताया कि जल्द ही लाभार्थियों से कागजात आदि एकत्र क कार्य शुरू कर दिया जाएगा। वहीं विभाग की ओर से विभिन्न निकायों की पांच और डीपीआर पर कार्य किया जा रहा है। सर्वे और वैरीफिकेशन का कार्य पूरा होने पर इसे भी मंजूरी के लिए सूडा को भेजा जाएगा। माना जा रहा है कि अगर सभी डीपीआर को मंजूरी मिल जाती है तो शहर में रहने वाले गरीबों को खुले आसमान के नीेचे गुजर बसर नहीं करना होगा उनके भी सिर पर छत होगी।

 

About Bharat Good News

error: Content is protected !!