Friday , April 19 2019

प्रमुख समाचार


Home / पूर्वांचल समाचार / अकबरपुर / पुलवामा हमले का भारत ने दिया जबाब ,देश के शहीदों की तेरहवीं दुश्मन की छाती पर

पुलवामा हमले का भारत ने दिया जबाब ,देश के शहीदों की तेरहवीं दुश्मन की छाती पर

REPORT- GOOD NEWS BHARAT

 नयी दिल्ली। भारत ने एक बार फ‍िर पाकिस्तान में घुसकर जिस तरह सर्जिकल स्ट्राइक 2 को अंजाम दिया है, उससे पूरे देश में जश्न का माहौल दिख रहा है। हर कोई अपने अंदाज में इस पर प्रतिक्रया दे रहा है। पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों की तेरहवीं से पहले भारत की इस कार्रवाई की हर तरफ प्रशंसा हो रही है। एयरफोर्स की कार्रवाई से सभी लोगों में जोश दिखाई पड़ रहा है।

भारतीय वायुसेना द्वारा पाकिस्तान पर की गई एयर स्ट्राइक की फोटो सामने आने लगी है। पाकिस्तान के बालाकोट में भारत के 12 लड़ाकू विमानों ने बमबारी कर 1000 ज्ञह बम जिस जगह भारत गिराए हैं यह जगह जैश-ए-मोहम्मद का ट्रेनिंग कैम्प था।
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यहां 300 से ज्यादा आतंकी मारे गए हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक जहां ये कैंप था वहीं घना जंगल था। इसी आंतकी कैंप में  सुसाइड अटैक की ट्रेनिंग दी जाती थी। इसके साथ ही यहां सड़कों पर कई देशों के झंडे भी मिले हैं।
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जब भारत ने आतंकी कैम्प पर हमला किया उस वक्त मौलाना अमर और आतंकी मसूद अजहर का भाई मौलाना तल्हा सैफ कैम्प में मौजूद था। खुफिया एजेंसियों द्वारा जारी किए गए डोजियर में मौलाना मसूद अजहर की गाड़ी अक्सर यहां आने की भी तस्वीरें हाथ लगी हैं।बताया जा रहा है कि मसूद अजहर और अब्दुल रउफ जैसे आतंकी इस कैम्प में आतंकियों को लेक्चर देते थे। इस कैम्प के किनारे कुन्हार नदी भी बहती है जहां आतंकियों को समुद्री हमले की ट्रेनिंग दी जाती थी।इस कैम्प के अंदर की तस्वीरें भी सामने आई है, जहां जैश-ए-मोहम्मद के कई झंडे नजर आए हैं।
इसके साथ ही पहली तस्वीर में मुफ्ती अजहर खान कश्मीरी (कश्मीर ऑपरेशन के हैड) और दूसरी तस्वीर में इब्राहिम अजहर (मसूद अजहर का बड़ा भाई जो प्ब्-814 विमान हैजेकिंग में शामिल था )। साथ ही भारतीय वायु सेना के हमलों से बालाकोट में गोला बारूद डंप किए। 200 से अधिक एके राइफल, बेशुमार हैंड ग्रेनेड, विस्फोटक और डेटोनेटर डंप किए गए।
भारतीय वायुसेना द्वारा पाकिस्तान पर की गई एयर स्ट्राइक की फोटो सामने आने लगी है। पाकिस्तान के बालाकोट में भारत के 12 लड़ाकू विमानों ने बमबारी कर 1000 ज्ञह बम जिस जगह भारत गिराए हैं यह जगह जैश-ए-मोहम्मद का ट्रेनिंग कैम्प था।
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यहां 300 से ज्यादा आतंकी मारे गए हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक जहां ये कैंप था वहीं घना जंगल था। इसी आंतकी कैंप में  सुसाइड अटैक की ट्रेनिंग दी जाती थी। इसके साथ ही यहां सड़कों पर कई देशों के झंडे भी मिले हैं।
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जब भारत ने आतंकी कैम्प पर हमला किया उस वक्त मौलाना अमर और आतंकी मसूद अजहर का भाई मौलाना तल्हा सैफ कैम्प में मौजूद था। खुफिया एजेंसियों द्वारा जारी किए गए डोजियर में मौलाना मसूद अजहर की गाड़ी अक्सर यहां आने की भी तस्वीरें हाथ लगी हैं।बताया जा रहा है कि मसूद अजहर और अब्दुल रउफ जैसे आतंकी इस कैम्प में आतंकियों को लेक्चर देते थे। इस कैम्प के किनारे कुन्हार नदी भी बहती है जहां आतंकियों को समुद्री हमले की ट्रेनिंग दी जाती थी।इस कैम्प के अंदर की तस्वीरें भी सामने आई है, जहां जैश-ए-मोहम्मद के कई झंडे नजर आए हैं।
इसके साथ ही पहली तस्वीर में मुफ्ती अजहर खान कश्मीरी (कश्मीर ऑपरेशन के हैड) और दूसरी तस्वीर में इब्राहिम अजहर (मसूद अजहर का बड़ा भाई जो प्ब्-814 विमान हैजेकिंग में शामिल था )। साथ ही भारतीय वायु सेना के हमलों से बालाकोट में गोला बारूद डंप किए। 200 से अधिक एके राइफल, बेशुमार हैंड ग्रेनेड, विस्फोटक और डेटोनेटर डंप किए गए।

About Bharat Good News

Leave a Reply

error: Content is protected !!